Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

DHADKANEIN MERI Yasser Desai

DHADKANEIN MERI Yasser Desai

संगीतकार – राशिद खान
गायक – यासर देसाई, असीस कौर
गीतकार – अंजान सगरी, नूही खान
शैली – पंजाबी पॉप

DHADKANEIN MERI Yasser Desai

DHADKANEIN MERI Yasser Desai – Asees Kaur mp3 song download


ये जो मुझपे हो गया है तेरा करम
बन गया तू मेरी चाहतो को हरम
ये जो मुझपे हो गया है तेरा करम
बन गया तू मेरी चाहतो को हरम

धड़कनें मेरी बस में रही न सनम
धड़कनें मेरी बस में रही न सनम
रख लेना मेरी ख्वाहिशों का भरम
तुझको पाने को मचले येह दिल हरदम

धड़कनें मेरी बस में रही न सनम
धड़कनें मेरी बस में रही न सनम
रख लेना मेरी ख्वाहिशों का भरम
तुझको पाने को मचले येह दिल हरदम

धड़कनें मेरी बस में रही न सनम
हो धड़कनें मेरी बस में रही न सनम
धड़कनें मेरी बस में रही न सनम
हो धड़कनें मेरी बस में रही न सनम
धड़कनें मेरी बस में रही न सनम

मेरी आँखों को ख़्वाबों से भर दे ज़रा
अपने लम्हे मेरे नाम कर दे ज़रा
मेरी आँखों को ख़्वाबों से भर दे ज़रा
अपने लम्हे मेरे नाम कर दे ज़रा

ठहरे ठहरे से हैं रास्ते इन् दिनों
बेसफर हूँ मुझे भी सफर दे ज़रा
बेसफर हूँ मुझे भी सफर दे ज़रा
बिन तेरे होती है मेरी पलकें येह नाम
मेरी बेचैनियां आके कर दे तू काम

धड़कनें मेरी बस में रही न सनम
धड़कनें मेरी बस में रही न सनम

ज़िन्दगी को बोहत है ज़रूरत तेरी
पड़ गयी है इससे अब तो आदत तेरी
ज़िन्दगी को बोहत है ज़रूरत तेरी
पड़ गयी है इससे अब तो आदत तेरी

मेरे एह्सास पे कर ज़रा बारिशें
मुझको रहती है हर पल शिद्दत तेरी
मुझको रहती है हर पल शिद्दत तेरी
मेरा तेरे लिए ही हुआ है जनम
अब तेरी तरफ़ ही उठेंगे कदम

धड़कनें मेरी बस में रही न सनम
धड़कनें मेरी बस में रही न सनम

DHADKANEIN MERI Yasser Desai – Asees Kaur mp3 song download

ye jo mujhape ho gaya hai tera karam
ban gaya too meree chaahato ko haram
ye jo mujhape ho gaya hai tera karam
ban gaya too meree chaahato ko haram

Dhadkanein meri bas mein rahi na sanam
Dhadkanein meri bas mein rahi na sanam
Yeh jo mujhpe hua hai tera hi karam
Ban gaya tu meri chahaton ka haram

Dhadkanein meri bas mein rahi na sanam
Dhadkanein meri bas mein rahi na sanam
Rakh lena meri khwahishon ka bharam
Tujhko paane ko machle yeh dil hardam

Dhadkanein meri bas mein rahi na sanam
ho Dhadkanein meri bas mein rahi na sanam
Dhadkanein meri bas mein rahi na sanam
ho Dhadkanein meri bas mein rahi na sanam
Dhadkanein meri bas mein rahi na sanam

Meri aankhon ko khwabon se bhar de zara
Apne lamhe mere naam kar de zara
Meri aankhon ko khwabon se bhar de zara
Apne lamhe mere naam kar de zara

Thehre thehre se hain raaste inn dinon
Besafar hoon mujhe bhi safar de zara
Besafar hoon mujhe bhi safar de zara
Bin tere hoti hai meri palkein yeh nam
Meri bechiniyan aake kar de tu kam

dhadkanaiin mairi bas maiin rahi na sanam
dhadkanaiin mairi bas maiin rahi na sanam

Zindagi ko bohat hai zarurat teri
Pad gayi hai isse ab to aadat teri
Zindagi ko bohat hai zarurat teri
Pad gayi hai isse ab to aadat teri

Mere ehsaas pe kar zara baarishein
Mujhko rehti hai har pal shiddat teri
Mujhko rehti hai har pal shiddat teri
Mera tere liye hi hua hai janam
Ab teri taraf hi uthenge kadam

dhadkanaiin mairi bas maiin rahi na sanam
dhadkanaiin mairi bas maiin rahi na sanam

meri mitti

Song – Dhadkanein
Musicians – Rashid Khan
Singers – Yasser Desai, Asees Kaur
Lyricists – Anjaan Sagri, Noohi Khan


You may also like...

Leave a Reply